Ayodhya

मालीपुर पुलिस के लिए एसपी का आदेश नहीं रखता मायना

  • मालीपुर पुलिस के लिए एसपी का आदेश नहीं रखता मायना

सुरहूरपुर,अंबेडकरनगर। पुलिस अधीक्षक के आदेश को मालीपुर पुलिस मानने को तैयार नहीं है। पुलिस अधीक्षक के आदेश को दर किनार कर मुकदमा नहीं दर्ज करने से खफा सीओ के निर्देश पर पुलिस ने तीन पुरुष और दो महिलाओं के विरुद्ध तोड़फोड़ जान से मारने की धमकी समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया। प्रकरण मालीपुर गांव निवासी धीरेंद्र यादव का है। धीरेन्द्र यादव अपने घर की पिछली दीवाल का प्लास्टर करा रहे थे। इसी दीवाल पर विपक्षी सत्यनारायण यादव आदि ने बांस बल्ली के सहारे सिमेंटेड शीट रखा है। धीरेंद्र जब दीवाल का प्लास्टर कराते वहां तक पहुंचे तो उन्होंने विपक्षी से सिमेंटेड शीट हटाने का निवेदन किया। विपक्षी सिमेंटेड शीट हटाने के बजाय आनंद यादव, विजय यादव, सत्य नारायण, प्रेमा देवी और प्रियंका ने अपमानित करते हुए बांस बल्ली तोड़ दिया और तमंचा से हत्या करने की धमकी दी। पीड़ित धीरेंद्र ने 23 मार्च को पुलिस को तहरीर दिया किंतु पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की। 24 मार्च को जब ढांचा हटाने की बात कही गई तो पुनः अपमानित करते हुए जान से मारने की धमकी दी गई। पीड़ित ने इसी दिन फिर से दूसरी तहरीर दिया। उपनिरीक्षक हवलदार यादव हमराह सिपाहियों के साथ मौके का जायजा लिया। बिपक्षियो को ढांचा हटाने का निर्देश दिया किंतु विपक्षी मानने को तैयार नहीं हुए। थक हारकर पीड़ित धीरेंद्र 28 मार्च को पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई। पुलिस अधीक्षक ने मुकदमा दर्ज कर विवेचना का आदेश दिया। इसके बाद भी मुकदमा दर्ज नहीं किया गया। सीओ के फटकार के बाद पुलिस ने बीते 29 मार्च की रात को उक्त पांच के विरुद्ध तोड़फोड़ जान से मारने की धमकी समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker