Ayodhya

महिलाओं से आभूषण छिनैती करने वाले किन्नरों के विरुद्ध मुकदमा, सामान बरामद नहीं कर सकी पुलिस

  • महिलाओं से आभूषण छिनैती करने वाले किन्नरों के विरुद्ध मुकदमा, सामान बरामद नहीं कर सकी पुलिस

जलालपुर।अंबेडकरनगर। कटका पुलिस ने पीड़ित द्वारा दी गई | तहरीर को बदलवा कर छीनैती की धारा के बजाय अपराधिक खड्यंत्र की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया।इतना ही नहीं किन्नरों को हिरासत में लेने के बाद उनकी नामजदगी के बजाय अज्ञात महिलाओ के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया जो चर्चा का विषय बन गया है।प्रकरण कटका थाना के मथुरापुर और चितई पट्टी गांव में बीते रविवार को घटित हुई थी। मथुरापुर निवासिनी प्रेमा देवी के घर कुछ माह पहले बेटे का जन्म हुआ था। दोपहर को एक चार चक्का वाहन से आठ की संख्या में किन्नरों का दल घर पहुंचा। किन्नरों का समूह नाच गान कर बधाई मांगने लगे।जब प्रेमा ने 500 रूपया देने का प्रयास किया तो लेने से इंकार कर अत्यधिक रूपयो की मांग करने लगे।इसी दौरान घर की एक महिला अंदर जाकर और रूपया लेने के लिए बॉक्स से जैसे ही रूपया निकाला आरोप है कि पीछे से पहुंची एक किन्नर ने 25 हजार रुपए छीन लिया। महिला ने जब विरोध किया तो बाहर रूपया देने की बात कही।जब घर के अंदर से किन्नर और महिला बाहर निकली तो दरवाजे पर खड़े अन्य किन्नर वहां मौजूद सभी महिलाओ के गले लिपटने लगे और इसी दौरान उनके कान और गला में पहना आभूषण छीन लिया। जब तक महिलाए कुछ समझ पाती सभी आठ किन्नरों का दल वाहन पर बैठ भाग गया।महिलाओ की सूचना पर घर के पुरुष और अन्य ग्रामीण किन्नरों का पता लगाते चितई पट्टी गांव पहुंचे जहां किन्नरों ने अमन और धीरेन्द्र के परिवार की महिलाओ को निशाना बना चुके थे। यहां भी दो महिलाओ का आभूषण छीन लिया गया था। ग्रामीणों ने जब वाहन रोकने का प्रयास किया तो दो किन्नरों को पकड़ लिया गया शेष 6 भागने में सफल रहे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दो किन्नर को हिरासत में लेकर थाना लाई।पीड़िता प्रेमा देवी की तहरीर पर अज्ञात महिलाओ के विरुद्ध अपराधिक खड्यंत्र की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया। थानाध्यक्ष यादवेंद्र सोनकर ने बताया कि अज्ञात महिलाओं के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर जांच पड़ताल की जा रही है। यह पूछने पर की हिरासत में लिए गए महिलाओं का नाम तहरीर में क्यों नहीं डाला गया, लूट छीनैती की धारा क्यों नहीं लगाई गई तो उन्होंने बताया कि हिरासत में ली गई महिलाएं अभी स्पष्ट रूप से कुछ नहीं बता पा रही है। तहरीर के अनुसार मुकदमा दर्ज किया गया है इसके लूट छिनती का वर्णन नहीं है।
पीड़ित प्रेमा देवी के पुत्र पवन ने मोबाइल पर बताया कि पुलिस ने तीन बार तहरीर बदलवा दिया।इसके बाद भी उचित धाराओं में मुकदमा दर्ज नही किया। किन्नरों के दल ने आपराधिक खड्यंत्र नहीं किया है अपितु इन लोगों ने दिनदहाड़े छिनैति किया है। पुलिस इन किन्नरों के प्रभाव में काम कर रही है। 24 घंटा बीत जाने के बाद पुलिस इनका सही पता तक लगा नहीं पाई ।इतना ही नहीं छीने गए आभूषण और रूपया तक बरामद नहीं कर सकी। इसी से आसानी से हर पहलू को समझा जा सकता है।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker