Ayodhya

मतदाता पुनरीक्षण में गड़बड़ झाला, मालीपुर के वोटरों को बनाया मुर्दा

  • मतदाता पुनरीक्षण में गड़बड़ झाला, मालीपुर के वोटरों को बनाया मुर्दा
  • जिला निर्वाचन अधिकारी की हिदायत के बावजूद कर्मचारियों की लापरवाही में सुधार नहीं

अम्बेडकरनगर। जिला निर्वाचन अधिकारी अविनाश सिंह द्वारा मतदाता पुनरीक्षण में भले ही अधिकारियों व कर्मचारियों को कार्य प्रगति व पारदर्शी की हिदायत दी जा रही है किन्तु इसमें जिधर देखिए वहीं खामिया सामने आने शुरू हो गये हैं। किसी भी तहसील क्षेत्र का रिकॉर्ड उठाकर देख लिया जाए तो किसी जिंदा को मुर्दा तो किसी मुर्दा को जिंदा सूची में किया गया है। इसकी हकीकत के लिए जलालपुर अन्तर्गत मालीपुर का मामला प्रकाश में आया है। ज्ञात हो कि चुनावों के पहले से ही मतदाता पुनरीक्षण कार्य प्रारम्भ हो जाता है जिसमें गड़बड़ी न होने पाये इसके लिए कर्मचारियों को अवगत कराया जाता रहता है बावजूद पारदर्शी होना असंभव रहता है। इधर लोकसभा का चुनाव होने को है जिसके लिए जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा महीनों से तैयारी करायी जा रही है। मतदाता पुनरीक्षण में नये वोटरों को जोड़ने और जिनकी मृत्यु हो चुकी है उनके नाम हटाने आदि के लिए हिदायत दी जा रही है। इसके पश्चात भी गड़बड़ी का अंबार लगा है। जलालपुर तहसील अन्तर्गत मालीपुर का मामला सामने आया है जिसमें बीएलओ से लेकर इस कार्य में जुड़े अन्य कर्मचारियों द्वारा घनश्याम यादव,सूर्यनाथ यादव,मोहरा,विमला व कैलाशी समेत दर्जन भर मतदाताओं को मृतक बना दिया गया है। इन लोगों ने आरोप लगाते हुए कहा कि भले ही जिला निर्वाचन अधिकारी इन कर्मचारियों को आये दिन मतदाता पुनरीक्षण में किसी भी दशा में लापरवाह न होने पाये,के लिए चेतावनी दी जा रही है किन्तु ये किसी भी दशा में सुधरने वाले नहीं है। लोगों का कहना है कि इनके कृत्य से मताधिकार जैसे अधिकार से वंचित होना पडे़गा। यदि समय रहते जिला निर्वाचन अधिकारी ने इसे गंभीरता से ले लिया तो भले ही लोकसभा के चुनाव में मतदान करने को मिल जाए।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker