Ayodhya

बीओबी इल्तिफतगंज शाखा से ठगी के शिकार पीड़ित पर जानलेवा हमला

  • बीओबी इल्तिफतगंज शाखा से ठगी के शिकार पीड़ित पर जानलेवा हमला
  • शिकायतों को अधिकारियों ने नहीं लिया संज्ञान, पीड़ित ने लगाए बैंक कर्मी पर आरोप

अंबेडकर नगर |बैंक ऑफ बड़ौदा शाखा इल्तिफातगंज मामले में जहां पीड़ित अपनी फरियाद लेकर दर-दर भटक रहा था जहां पीड़ित बैंक ऑफ बड़ौदा के अधिकारियों से लेकर जिलाधिकारी से लेकर पुलिस अधीक्षक के यहां भी पीड़ित ने अपनी फरियाद लगाई थी.

वहीं बीच में पीड़ित को बैंक मैनेजर के सह पर बैंक कर्मी दीपक वर्मा द्वारा बीच चौराहे पर जबरन गाड़ी रोक कर जबरन हस्ताक्षर करने का प्रयास किया गया जब पीड़ित में हस्ताक्षर नहीं किया तो जान से मारने की धमकी भी दी गई थी जिस संबंध में पीड़ित द्वारा इब्राहिमपुर थाने पर प्रार्थना पत्र देकर जान-माल की सुरक्षा की गुहार लगाई थी लेकिन वहां भी मामले को दबाने का ही कार्य किया गया.

बीते दिन मंगलवार को रात्रि करीब 8 बजे जब पीड़ित अपने घर जा रहा था तो स्थान सम्हरिया हाईवे के पास पहुंचा ही था तो दीपक वर्मा व एक अन्य अज्ञात द्वारा मोटरसाइकिल के ओवरटेक पीड़ित को किया गया पीड़ित ने दीपक वर्मा को ओवरटेक करते हुए देखा तो कुछ आगे जाने के बाद दीपक वर्मा पीछे बैठे एक अन्य अज्ञात द्वारा गाड़ी मोड़ कर पीड़ित के मोटरसाइकिल में लाकर टक्कर मार दिए टक्कर लगने के कारण पीड़ित गाड़ी लेकर सड़क के किनारे गिर गया.

जिससे पीड़ित का बाया हाथ कई जगह से टूट गया और पीड़ित बेहोश हो गया था स्थानीय लोगों द्वारा पहुंचकर पीड़ित की मोबाइल से फोन किया गया जिससे घर वाले मिलकर पीड़ित को जिला अस्पताल लेकर आए रात भर पीड़ित जिला अस्पताल में भर्ती रहा जिसकी सूचना पीड़ित ने अगले दिन पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र के साथ दिया

पीड़ित को आश्वासन दिलाते हुए तत्कालीन कार्रवाई की बात भी पुलिस अधीक्षक द्वारा कहा गया वहीं पीड़ित का कहना है कि यह सब कारनामा बैंक ऑफ बड़ौदा मैनेजर की शिकायत करने का नतीजा है क्योंकि बैंक मैनेजर अपनी गलतियों को छुपाने के लिए पीड़ित के साथ ऐसा घिनौना कार्य कर रहे हैं

जिस बैंक मैनेजर की कमी पढ़ी न जाए क्योंकि बैंक के जितने भी अधिकारी है सब अपने बैंक मैनेजर को बचाने के चक्कर में लगे हुए हैं इतना ही नहीं बल्कि जिन अधिकारियों को पीड़ित से मिलने के लिए या पीड़ित की बातें सुनने के लिए समय नहीं रहता था ऐसे अधिकारी थाने पर घंटों बैठे रहते हैं ऐसे में पीड़ित को न्याय कहां से मिलेगा देखना यह है कि पीड़ित के साथ इस घटना को पुलिस किसी नजर से देखती है या फिर पीड़ित को गोलमोल तरीके से घुमाया ही जाएगा।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker