Ayodhya

ट्रक बिक्री प्रकरण में शपथ पत्र के गवाहों की जांच कराये जाने की मांग

  • ट्रक बिक्री प्रकरण में शपथ पत्र के गवाहों की जांच कराये जाने की मांग
  • पीड़ि़त ने एसपी से लेकर पुलिस महानिदेशक व मुख्यमंत्री को भेजा पत्र
  • निष्पक्ष जांच पर सम्मनपुर व मालीपुर क्षेत्र के जालसाजों का भण्डाफोड़ होना तय-ओम प्रकाश सिंह

अम्बेडकरनगर। थाना सम्मनपुर क्षेत्र के यहिया कमालपुर निवासी ओम प्रकाश सिंह द्वारा बिक्री किये ट्रक में एक फर्जी शपथ पत्र का मामला आया है जिसमें विक्रेता ने जालसाज गिरोह का आरोप लगाते हुए स्थानीय पुलिस के साथ एसपी, पुलिस महानिदेशक व मुख्यमंत्री उप्र शासन से निष्पक्ष जांच की मांग किया है।

ज्ञात हो कि उक्त गांव के रहने वाले ओम प्रकाश सिंह द्वारा गत वर्ष अपनी ट्रक यूपी 45 टी-7941 को मालीपुर थानान्तर्गत निवासी निरंजन यादव पुत्र महिमा यादव को 5 लाख 50 हजार में बतौर नोटरी बयान हल्फी पर समझौते में बिक्री किया था। क्रेता ने उन्हें इस धनराशि का कई चेक उपलब्ध कराया था। निर्धारित अवधि पूरा होने के पश्चात विक्रेता ने सम्बंधित बैंक खाते में भुगतान के लिए जब जमा किया तो यूनियन बैंक की शाखा मालीपुर से यह बाउंस होकर चला आया।

इस बारे में विक्रेता द्वारा क्रेता को जानकारी देने पर वह हीला-हवाली करने लगा और उस शपथ पत्र से इतर दूसरे का हवाला देते हुए यह कहा जाने लगा कि उसका क्रेता से कोई लेना-देना नहीं है। इस पर पीड़ित ओम प्रकाश ने स्थानीय पुलिस को अवगत कराया किन्तु वहां निष्पक्ष जांच करने के वजाय मामले को रफा-दफा कर दिया गया। इस मामले में पीड़ित ने एसपी से लेकर शासन को पत्र भेजकर कहा है कि जिस शपथ पत्र को क्रेता निरंजन यादव दिखा रहे हैं वह पूरी तरह से फर्जी है। पीड़ित ने पहले के शपथ पत्र के अलावा जो दूसरा सामने आ रहा है इनमें अपने हस्ताक्षर की जांच कराये जाने की मांग किया है।

पीड़ित के अनुसार निरंजन यादव जालसाज गिरोह का सरगना है और उसके साथ में लगभग आधा दर्जन लोग शामिल हैं। पीड़ित ने बताया कि यदि ट्रक बिक्री प्रकरण में जिन गवाहों ने दूसरे शपथ पत्र पर हस्ताक्षर किया है इसकी निष्पक्ष जांच हो जाये जो नोटरी अधिवक्ता समेत सम्मनपुर व मालीपुर थाना क्षेत्र के रहने वाले सभी जालसाजों का भण्डा फोड़ होना तय होगा। यही नहीं इन लोगों ने जितने भी कृत्य अब तक किये हैं सबकी पोल खुल जायेगी। पीड़ित ने सम्मनपुर थानेदार पर जालसाजों को संरक्षण देने का आरोप भी लगाया है।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker