Ayodhya

जन्नतुल बकी मकबरे के पुनर्निमाण को लेकर शिया समुदाय ने निकाला कैंडल मार्च

  • जन्नतुल बकी मकबरे के पुनर्निमाण को लेकर शिया समुदाय ने निकाला कैंडल मार्च

जलालपुर,अम्बेडकरनगर। सऊदी अरब की सरकार के द्वारा नष्ट किए गए जन्नतुल बकी मकबरे के पुनर्निर्माण की मांग करते हुए शिया समुदाय के प्रतिनिधियों द्वारा कैंडल मार्च का आयोजन किया गया। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत बीते बुधवार को सायं 7 बजे से जलालपुर कस्बे के जाफराबाद मोहल्ले की बड़ी मस्जिद से प्रारंभ होकर सराय चौक, सब्जी मंडी, मेन रोड, थाने के सामने से यादव चौराहा होकर पुनः बड़ी मस्जिद जाफराबाद में आकर समाप्त हुई। पोस्टर बैनर व मोमबत्तियां के साथ बड़ी संख्या में शिया समुदाय के लोगों ने कैंडल मार्च में शामिल होकर मकबरा जन्नतुल बकी के किये गए ध्वस्तीकरण का विरोध कर उसके पुनः निर्माण की मांग की। मार्च का नेतृत्व कर रहे मौलाना जैगम अब्बास बाकरी ने कहा कि पैगंबर की बेटी कब्र वाले मकबरे को बेहद संवेदनहीन तरीके से पहली बार 1806 में नष्ट कर दिया गया था। दुनिया भर में हुए तीव्र विरोध के बाद इसका पुनर्निर्माण किया गया था किंतु वर्ष 1926 में इसे पुनः ध्वस्त कर दिया गया। तब से प्रतिवर्ष इस दिन को यौमे गम के रूप मनाते हुए मकबरे के पुनर्निर्माण हेतु प्रदर्शन किया जाता है। प्रधानमंत्री मोदी से अपील करते हुए कहा कि सरकार को इस मुद्दे पर सऊदी सरकार से बात कर उसे मकबरे के पुनर्निर्माण हेतु राजी करना चाहिए। कैण्डल मार्च के सकुशल समापन हेतु उप जिलाधिकारी सुभाष सिंह व क्षेत्राधिकार देवेंद्र कुमार मौर्य के नेतृत्व में कोतवाल संतोष कुमार सिंह, थाना प्रभारी जैतपुर वंदना अग्रहरी समेत भारी पुलिस बल की मौजूदगी रही।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker