Ayodhya

क्रिकेट मेले के सेमीफाइनल मैच में हंसवर और संतकबीरनगर टीम फाइनल में बनाई जगह

जलालपुर, अंबेडकरनगर। मोतीलाल इंटर कालेज परिसर मालीपुर में सेमी फाइनल मैच में हंसवर की टीम ने लखनऊ और संतकबीरनगर की टीम ने बस्ती को हराकर फाइनल में जगह बनाई। विदित हो कि भारी बारिश के चलते राज्यस्तरीय क्रिकेट मेला का सेमी फाइनल मैच स्थगित हो गया था और रविवार को कड़ाके के ठंड के बीच खेला गया। भारी भीड़ के बीच दर्शको का उत्साह जहां रोमांस वहीं खिलाड़ियों में गर्मी पैदा कर रहा था।

पहला सेमी फाइनल मैच संतकबीर नगर और बस्ती टीमों के बीच खेला गया। इसी बीच मैच का उद्घाटन करने पहुंचे कांग्रेसी नेता सुनील कुमार मिश्र ने दोनो टीमों के खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर उन्हे हिंदू वर्ष खिचड़ी त्यौहार की बधाई दी। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी संतकबीर नगर की टीम ने 15 ओवर के मैच में 8 विकेट खोकर 137 रनो का स्कोर खड़ा किया।

संतकबीरनगर के बल्लेबाज माला ने चार छक्का और एक चौका की मदद से 43, आसिफ ने 6 चौका और 1 छक्का की मदद से 41 और गोलू ने 3 चौका और एक छक्का की मदद से 23 रन बनाए। बस्ती के गेंदबाज हर्षित और संदीप ने दो दो और तनु ने एक विकेट प्राप्त किए। 138 रनो के जवाब में उतरी बस्ती के टीम के सभी खिलाड़ी 127 रन पर आल आउट हो गए। संतकबीरनगर की टीम बस्ती की टीम को रौंद कर फाइनल में पहुंच गई।

बस्ती के बल्लेबाज मानस ने चार छक्का और एक चौका की मदद से 34, दानबीर ने तीन छक्का जड़कर 24 और दिव्यांश ने दो चौका की मदद से 14 रन बनाए किंतु हार नहीं टाल सके।संतकबीरनगर के गेंदबाज एम डी सत्तार की कहर बरपाती गेंद के आगे बस्ती के बल्लेबाज बौना साबित हुए। इन्होंने चार विकेट झटका। आसिफ ने दो और ए जे ने एक विकेट लिया। दूसरा सेमी फाइनल मैच लखनऊ और हंसवर टीमों के बीच खेला गया।

टॉस जीतकर हंसवर के कप्तान ने पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। हंसवर की टीम के बल्लेबाज करन 12, निखिल और प्रेम के 11-11 रनो की बदौलत 12 ओवर में आठ विकेट के नुकसान पर 60 रनो का स्कोर खड़ा किया। लखनऊ के गेंदबाज अमन और दिव्यांशु ने दो दो और राज नाविक ने एक विकेट प्राप्त किए। 61 रनो के बचाव में उतरी लखनऊ की टीम महज 54 रन पर आल आउट हो गई और फाइनल की दौड़ से बाहर हो गई।

लखनऊ के बल्लेबाज जीवेश 11 और राज नाविक के 10 रन के अलावा कोई दहाई का आंकड़ा नहीं पार कर सका। हंसवर के गेंदबाज आलोक और सचिन ने तीन तीन वही कुसर ने एक विकेट झटकर लखनऊ की टीम को वापस लखनऊ भेज दिया। अंपायर की भूमिका दिलीप यादव और सूर्यनाथ यादव ने और कमेंटेटर की भूमिका आशा राम त्यागी ने निभाई। संरक्षक सुभाष यादव अध्यक्ष आशुतोष मिश्रा, राणा यादव, विशाल अग्रहरी, गिरीश यादव समेत अन्य व्यवस्था में लगे रहे।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker