Ayodhya

कड़ी सुरक्षा के बीच निकला दसवीं मोहर्रम का जुलूस, सलार गढ़ के शहबाग में सुपुर्द ए खाक हुए सभी ताजिया

  • कड़ी सुरक्षा के बीच निकला दसवीं मोहर्रम का जुलूस , सलार गढ़ के शहबाग में सुपुर्द ए खाक हुए सभी ताजिया

टांडा,अम्बेडकरनगर | दसवीं मोहर्रम तहजिया जलूस सुरक्षा व्यको लेकर खास तैयारी दिख रही है.. साथ ही मुस्लिम समुदाय के लोग खासतौर पर ताजिया के निर्माण में जुट गए हैं।.राजा काजिंम रजा नजमी ने बताया कि यहां हर वर्ष मोहर्रम के अवसर पर विभिन्न मोहल्लों की सभी कमेटी के लोग मिलकर ताजिया का निर्माण करते हैं। ताजिया का निर्माण इमाम हुसैन की शहादत के याद में बनाया जाता है. ।

प्रत्येक वर्ष बांस, थर्माकोल, रंगीन कागज की मदद से ताजिया बनाया जाता है। फिर उसे इमामबाड़ा में रख दिया जाता है. उन्होने ने बताया कि ताजिया बनाने की तैयारी पहले शुरू कर दी जाती है.। ताकि इसे समय पर पूरा किया जा सके.। वहीं ताजिया के निर्माण के लिए लोग अपने इच्छा अनुसार दान करते हैं ।ताकि ताजिया का निर्माण अच्छे से हो सके।

अमन और शांति की सीख देती मुहर्रम का पर्व

ताजिया के डेकोरेशन लिए कमेटी के सभी लोग एक साथ मिलकर सभी लगन के साथ काम करते हैं.। मोहर्रम मुस्लिम समुदाय के महत्वपूर्ण पर्व में से एक है ।जो अमन और शांति की सीख देती है। . मोहर्रम के दिन विभिन्न स्थानो की झांकी और जुलूस निकाला जाता है।

दसवीं मुहर्रम का जुलूस राजा साहब मीरानपुरा स्थित आवास से निकलता है। जो मीरानपुरा रौजा होते हुये हयातगज ,शेखपुरा ताज टाकिज होते हुए सलारगढ पहुंचता है और फिर शहबाग पहुंचकर सभी ताजियों को सुपुर्दे आक कर दिया जाता है ।दसवीं के जुलूस में सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद रहती है । दसवी मुहर्रम के जुलूस व ताजिया निकालने के लिए सभी तैयारियां कर ली गयी है ।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

error: Sorry! This content is protected !!

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker