Ayodhya

आरक्षित टिकट की काला बाजारी और लिपिकों की अभद्रता से यात्री त्रस्त

  • आरक्षित टिकट की काला बाजारी और लिपिकों की अभद्रता से यात्री त्रस्त

लखनऊ। जहां रेलवे प्रशासन आम यात्रियों की सहुलियत के लिए तमाम कोशिशें कर रही है वहीं अकबरपुर स्टेशन पर कर्मचारी लूट खसोट के लिए चर्चित हैं। यात्रियों के साथ अभद्रता हो रही हैं। इसकी नजीर उस समय देखने को मिली जब लगभग आधा दर्जन यात्री अहमदाबाद को जाने वाली ट्रेन साबरमती के बारे में इंक्वायरी पर पूंछने गये तो वहां तैनात महिला लिपिक ने खुलेआम जमकर बदसलूकी की, बोली मेरी बोली ही ऐसी है और रहेगी भी किसी को कुछ नहीं समझती। आये दिन इस इंक्वायरी आफिस में दलालों का जमघट लगा रहता है।

यह महिला इतना मनबढ़ है कि कोई भी यात्री ट्रेन की जानकारी के लिए इसके पास नहीं फटकते। बताया जाता है कि यह क्षेत्रीय होने के कारण दबंग भी है। और इसी के साथ-साथ खुलेआम आरक्षण लिपिकों एवं दलाल मिलकर आरक्षण टिकट की दलाली कर रहे हैं। दलाल शाम से ही सक्रिय हो जाते हैं। इन दलाल और लिपिकों की कार्यशैली को लेकर लोगों का कहना है इस तरह के मामले आये दिन मीडिया की सुर्खियों में है और शिकायतें भी हो रही हैं फिर भी गजब के अधिकारी जो आंख पर पट्टी और कान में तेल डालकर बैठे हैं जिन्हें भ्रष्टाचार के विरूद्ध अभियान चलाने वाली सरकार से कोई लेना-देना नहीं है बल्कि बदनाम करने में जुटे हुए हैं। लोगों का कहना है कि इसके पीछे कहीं न कहीं बिजलेंस टीम की भूमिका भी संदिग्ध है।

पूरी खबर देखें

संबंधित खबरें

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker